उमा भारती नहीं लड़ेंगी 2019 का चुनाव

0
69

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने 2019 के लोकसभा चुनाव में नहीं उतरने का फैसला किया है। बीजेपी की सीनियर नेता ने भोपाल में यह बात कही। उन्होंने कहा कि चुनाव लड़ने की जगह वह अगले डेढ़ साल पूरा ध्यान राम मंदिर निर्माण और गंगा की सफाई पर लगाएंगी। उमा भारती से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, जब 2016 में मैंने अमित शाह से बात की तो उन्होंने कहा था कि मुझे इस्तीफा नहीं देना चाहिए। मेरे इस फैसले पर भी पार्टी ही अंतिम निर्णय लेगी, लेकिन अगले डेढ़ साल तक मैं सिर्फ राम मंदिर निर्माण और गंगा की सफाई पर ही ध्यान लगाऊंगी। इसके अलावा उमा भारती ने ट्वीट कर कहा, राम मंदिर पर हमारी आस्था एक स्थापित तथ्य है और हम राम मंदिर के नाम से कोई नफा-नुकसान नहीं सोचते हैं। हमने अयोध्या आंदोलन के बाद भी 1993 का विधानसभा चुनाव हारने के बाद भी 1998 के चुनावी घोषणापत्र में राम मंदिर निर्माण को रखा था। क्योंकि हम राम को चुनाव की हार-जीत से नहीं देखते हैं, राम हमारी आस्था के केंद्र बिंदु हैं। राम मंदिर का निर्माण अब आंदोलन से नहीं बल्कि बातचीत से होगा। अध्यादेश यदि लाना भी है तो कांग्रेस को हमारा साथ देना होगा। देश के लिए अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी क्सोंकि राम मंदिर को लेकर कांग्रेस ने ही माहौल खराब किया है।