राष्ट्रीय किकबाक्सिंग स्पर्धा में छत्तीसगढ को 12 पदक

0
31

रायपुर। भारतीय किकबाक्सिंग संघ के मार्गदर्शन तथा पश्चिम बंगाल किकबाक्सिंग एसोसिएसन के तत्वावधान में सीनीयर वर्ग की राष्ट्रीय किकबाक्सिंग प्रतियोगिता का आयोजन कलकत्ता के खुदीराम अनुशीलन केंद्र इनडोर स्टेडियम में 2 से 5 दिसंबर 2018 तक किया गया। इस प्रतियोगिता में पुरू़ष तथा महिला वर्ग में अलग-अलग वजन वर्ग में पाईंट फाईटींग, लाईट कांटेक्ट, किक लाईट, फुल कांटेक्ट,लो किक, के वन एवं म्युजिकल फार्म्स इवेंट की प्रतियोगिता हुई जिसमें देश के 22 राज्यों के 400 खिलाड़ी, आफिसीयल एवं कोच-मैनेजर ने हिस्सा लिया। भारतीय किकबाक्सिंग संघ के महासचिव एवं किकबाक्सिंग एसोसिएसन आॅफ छत्तीसगढ़ के महासचिव तारकेश मिश्रा ने बताया कि किकबाक्सिंग खेल का अंतराष्ट्रीय फेडरेशन वर्ल्ड एसोसिएसन आफ किकबाक्सिंग आगेर्नाईजेशन को अंतराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी ने मान्यता प्रदान कर दी है। राज्य से 13 खिलाडीयों ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया, जिसमें कोरबा जिले के छत्तीसगढ मार्शल आर्ट एकेडमी से 7 खिलाड़ी जिसमें पुरूष वर्ग में कपिल पटेल ने स्वर्ण पदक, अशोक साहू ने 2 स्वर्ण पदक, वीर नारायण सिंह ने रजत तथा कांस्य एवं नमन मरावी ने कांस्य पदक, वहीं महिला वर्ग में रंजना तिर्की ने रजत, अंजली कुर्रे एवं रीचा जायसवाल ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया। गरियाबंद जिले से महिला वर्ग में दुर्गा चंद्राकर ने कांस्य एवं बिलासपुर जिले से महेश देवांगन स्वर्ण, मयंक पैकरा ने कांस्य पदक प्राप्त किया। टीम कोच के रूप में रितेश साहा एवं आफिसीयल्स में आकाश गुरूदीवान, गौरव कोसले ने टीम का प्रतिनिधित्व किया।