मैं यहां वादे करने नहीं नाते निभाने आया हूं, पाटन की धरती को प्रणाम

0
67

रायपुर। मुख्यमंत्री बनने के बाद भूपेश बघेल सोमवार को पहली बार अपने निर्वाचन क्षेत्र पाटन पहुंचे। यहां कार्यकर्ताओं के साथ आम लोगों ने मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया। लोगों का स्नेह और प्यार देखकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मैं यहा वादे करने नहीं नाते निभाने आया हूं। पाटन की धरती को प्रणाम जिन्होंन आज मुझे इस मुकाम तक पहुंचाया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के अमलेश्वर से पाटन तक रोड शो के दौरान उनके स्वागत के लिए गांव-गांव में जनसैलाब उमड़ पड़ा। राजधानी रायपुर के रायपुरा महादेव घाट स्थित हटकेश्वर महादेव धाम में पूजा-अर्चना करने के बाद शुरू हुए रोड शो में ग्रामीणों ने अभूतपूर्व उत्साह और गर्मजोशी के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का अभिनंदन किया। मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार श्री बघेल अपने निर्वाचन क्षेत्र पाटन पहुंचे थे। लगभग 25 किलोमीटर के रोड शो में सड़कों के दोनों किनारों पर लोग कतारबद्ध होकर उनके इंतजार में खड़े थे। मुख्यमंत्री ने खुले वाहन में खड़े होकर जनता का अभिवादन स्वीकार किया। गांवों में फूल-मालाओं और बाजे-गाजे के साथ उनकी अगवानी की गई। कई गांवों में स्वागत सभाओं का आयोजन किया गया। श्री बघेल ने ग्राम सांकरा की स्वागत सभा में ग्रामीणों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि आपके आशीर्वाद से ही मुझे विधायक के रूप में इस क्षेत्र की 5 बार सेवा करने का मौका मिला है और आज आपके आशीर्वाद से मुझे प्रदेश का मुखिया बनने का अवसर मिला है। इस अवसर पर सांकरा ग्राम पंचायत के सरपंच अशोक सिंगोर सहित आशीष वर्मा, राकेश राजेंद्र साहू, महेंद्र छाबड़ा, श्रीमती चमेली लहरे और श्रीमती आशा बाई सहित ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित थे। ग्राम सांकरा में मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों के बीच पहुंचकर उनसे आत्मीयता से मुलाकात की। भीड़ में उपस्थित बच्चों को भी उन्होंने दुलारा। ग्राम मोतीपुर, तर्रा, फुण्डा में भी ग्रामीणों ने गर्मजोशी के साथ मुख्यमंत्री का स्वागत किया। ग्राम जामगांव में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महामाया देवी शीतला मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश की सुख समृद्धि का आशीर्वाद मांगा। गांव में जगह-जगह पंडाल लगाकर लोग मुख्यमंत्री का इंतजार कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने जामगांव में छत्तीसगढ़ की माटी के सपूत और छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण आंदोलन के पुरोधा व अपने राजनैतिक गुरू चंदूलाल चंद्राकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की। जामगांव में रोड शो के दौरान मुख्यमंत्री ने महिलाओं से मुलाकात की। ग्राम तर्रा में भी मुख्यमंत्री ने ग्रामीण भाई बहनों से बड़ी आत्मीयता के साथ मुलाकात की और उनके प्रति आभार प्रकट किया।