जंतर मंतर पर धरना देकर पीड़िता पूनम पाण्डेय ने मांगा न्याय

0
55

नई दिल्ली। भाजपा के प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन पर बलात्कार करने का आरोप लगाने वाली पीड़िता पूनम पाण्डेय ने जंतर मंतर पर धरना देकर न्याय की गुहार लगाई है। पूनम का कहना है कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह को पत्र लिखकर मामले की जानकारी दी है फिर भी उनके साथ न्याय नहीं किया जा रहा है। मी टू मंच पर भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन पर बलात्कार करने का आरोप लगाने वाली एनजीओ संचालिका पूनम पाण्डेय को लगातार जान से मारने की धमकी भी दी जा रही है। पूनम पाण्डेय का ट्विटर एकाउंट 13 अक्टूबर 2018 की शाम अचानक सस्पेंड कर दिया गया।

पूनम के ट्विटर एकाउंट पर डाले गये वीडियो का कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कमेंट करते हुए री-ट्वीट किया था। पीड़ित पूनम का आरोप है कि भाजपा के नेता शाहनवाज हुसैन ने दिल्ली के छतरपुर स्थिति फार्म हाउस पर उसके साथ बलात्कार किया था। इसकी शिकायत उन्होंने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से लेकर गृहमंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों से की थी किन्तु उन्हें न्याय नहीं मिला। मी टू मंच पर उन्होंने अपनी बात रखने की कोशिश की थी। इसी बीच उनका ट्विटर एकाउंट सस्पेंड करा दिया गया। पीड़िता पूनम पाण्डेय ने अपनी हत्या किये जाने की भी आशंका जतायी है। उन्होंने शाहनवाज हुसैन और उनके भाइयों द्वारा की जाने वाली अन्य अवांछनीय गतिविधियों के बारे में भी उच्चाधिकारियों को जानकारी दी थी। ऐसे में उनकी हत्या कराई जा सकती है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने न्याय की गुहार लगाई है।