जशपुर में नकली नोट के सौदागर को पुलिस ने भेजा जेल

0
61

जशपुर। छत्तीसगढ़ में जशुपर जिले की कुनकुरी पुलिस ने असली नोट के बदले तीन गुणा नकली नोट देने का सौदा करने वाले सौदागर को रंगे हाथ पकड़ने के बाद जेल दाखिल करा दिया है। प्रार्थी ने नकली नोट का सौदा करने वाले सौदागर के बारे में पूरी जानकारी कुनकुरी पुलिस को पहले ही बता दिया था जिसकी वजह से कुनकुरी पुलिस घेराबंदी कर आरोपी को पकड़ने में सफल हुई है। प्रार्थी लवलेश कुमार चक्रेश जिले के कांसाबेल के ग्राम टांगरगांव का रहने वाला है और खेती का काम करता है। लवलेश ने पुलिस को बताया कि ग्राम लोढाआम्बा का रंथू राम यादव के द्वारा असली नोट के बदले नकली नोट ओ भी तीन गुना दूंगा का झांसा देकर ठगी करने का प्रयास कर रहा है। इस संबंध में लवलेश ने लिखित आवेदन पेश करते हुए कुनकुरी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। प्रार्थी लवलेश कुमार चक्रेश पिता विद्याधर चक्रेश उम्र 42 वर्ष निवासी टांगरगांव थाना कांसाबेल ने अपने लिखित आवेदन में पुलिस को बताया था कि छह माह पूर्व लोढाआम्बा का रंथू राम यादव गांव में मुझसे मिला और बताया कि मेरे पास नकली नोट है, एक असली नोट के बदले में तीन नकली नोट दूंगा कहा था और उसके बाद कई बार मुझे फोन किया। तब मुझे शंका लगा कि पैसा डबल तिबल करने का झांसा देकर ठगने वाला है। इसके पश्चात 14 नवंबर 2018 को मो. न. 07771097496 से मेरा मो. न. 9131618379 में रंथू राम काल किया और बोला कि 1.50 लाख नकली नोट की व्यवस्था हो गयी है। 15 नवंबर 2018 को 50 हजार लेकर कुनकुरी गिनाबहार आ जाना। आरोपी के कहने पर लवलेश कुनकुरी आया और एक दूसरे व्यक्ति को ठगी करने वाले के संबंध में जानकारी बताकर कुनकुरी थाना में सूचना करने कहा था और वह आरोपी के बताये जगह पर रंथू राम के फोन का इंतजार कर रहा था। इसी बीच आरोपी रंथू राम लवलेश को फोन किया और बताया कि तुम गिनाबहार आम बगीचा के पास आ जाओ, मैं जाली नोट का बंडल लेकर खडा हूं। आरोपी के कहने पर लवलेश आम बगीचा गिनाबहार पहुंचा, तो देखा कि रंथू राम काला रंग का बैग एवं मोटर सायकल होण्डा साईन के साथ खडा था, जैसे ही रंथू राम बैग खोलने लगा तभी कुनकुरी पुलिस पहुंच गई। पुलिस को देखकर रंथू राम भागने लगा तब पुलिस वाले दौडाकर रंथू राम को धर दबोचा।